Tuesday, 22 November 2016

SHORT HINDI POEMS - 8 !!!!!!!

1. आप हमसे इतने दूर चले गये
     कि हमारी धडकन सुन ही नहीं पाए
     एक बार मुडकर तो देख लिया होता
    लेकिन आप हमारी भावनावों को समझ ही नहीं पाये
- रेविना

2. पेहले जिंदगी हमसे खफा थी
    और हम सब कुछ समेठना चाहते थे
    अब हम जिंदगी से खफा है
    और जिंदगी हमे समेठना चाहती है
- रेविना

3. माना हमने जो किया वो सबके नज़र मे गुना है
    पर आपने जो किया क्या वो तारीफ के काबिल है?
    माना हमने आप से गुस्सा किया दो चार बातें सुना दिया
    पर आपने भी बेइमानी करके ऐसा भी क्या उखाड लिया?
- रेविना

4. सोचा था तेरे प्यार को
    दिल मे चुपा के रखूँगी
    पर तूने मौका नही दिया
    फिर सोचा तेरे यादों को
    सीने से लगा के रखूँगी
    पर तूने वक्त को जाने नहीं दिया
- रेविना
5. जब लोग उमर के कच्चे होते हैं...
    गुन से ज्यादा खूबसूरती को एहमीयत देेतें हैं
    प्यार से ज्यादा पैसे को एहमीयत देतें हैं
    रिश्ते से ज्यादा दौलत को एहमीयत देतें हैं
    जब लोग गुन प्यार रिश्ते को एहमीयत देने लगे
    तो समझो वो उमर मे पक्के हो चुके हैं
- रेविना

No comments:

Post a Comment